Menu

काश! मेरा देश जाग जाये!

काश! मेरा देश जाग जाये!

(यूक्रेनियन सांसद को जनता द्वारा कूड़ेदान में फेंक कर आग लगाने के प्रयास पर मेरी प्रतिक्रिया)

हे प्रभु !

मेरे देश में

ऐसी नौबत

कभी ना आये

कि

चुने हुये नेताओं को

जनता जलाये !

उससे पहले ही

हर ‘भारत’

हर ‘भारती’ जाग जाये!

अपने वोट की

ताकत जाने•••

नेताओं को पहचाने!!!

हर ‘भारत-भारती’ का वोट

योग्यतम को ही जाये!

काश !

मेरा देश जाग जाये!

जल्दी जाग जाये !!

कहीं बहुत•••

देर ना हो जाये!!!

कहीं भारत की जनता भी

नेताओं को

कूड़ेदान में फेंकने

आमादा ना हो जाये!!!

  • SathyaArchan
Advertisements

3 thoughts on “काश! मेरा देश जाग जाये!”

  1. sajid khan कहते हैं:

    आज देश में जिस तरहा बद्लाओ आरहा है अच्छा नहीँ है!!! क्योंकि यह देश किसी की प्रायवेट प्रोपर्टी नहीँ है आज हम हमारे बुजुर्गों की कुर्बानीयो को भूल रहे हैं अपने खून से सींच है यहाँ की मिट्टी को उन्होने !!!! और हम अपने सामने लूटते हुए देख रहे हैं और हम फ़िर भी खामोश हैं और जिसका दिल दुख रहा है वो सोशलमीडिया पर अपना गुस्सा दिखा रहा है जिससे कूछ होने वाला नहीँ !!!!!अगर वाक़ई कूछ करना चाहते हैं लोग तो सबको एक मंच पर आना होगा जाती और धर्म से ऊपर उठ कर

    1. धन्यवाद् … ! बिल्कुल सही कह रहे हैं आप… इस जन-जागरण अभियान में क्या मैं आपको अपने साथ मान सकता हूँ … मैं तो आपके साथ हूँ…! मेरे ब्लाग के माध्यम से… और बाहर भी…

    2. धन्यवाद!
      आप ठीक कहते हैं लेकिन एक साथ आने का कोई और रास्ता दिखता हो तो बतायें!

अच्छा-बुरा... कुछ तो कहिये...

%d bloggers like this:
टूलबार पर जाएं