नया रूप

इश्क जिन्दगी है
मौत भी
इश्क के रंगों में से
एक रंग यह भी….

Advertisements

लेखक: सत्यार्चन.SathyaArchan

हिन्द-हिन्दी-हिन्दू-हित-हेतु..... वास्तविक हिन्द हितचिंतक मंच!. प्रयास और परिवर्तन के प्रबल पक्षधर पराजित नहीं होते... हो भी नहीं सकते !!! - #सत्यार्चन #SathyArchan #Satyarchan

“नया रूप” पर एक विचार

  1. वाह…
    हिन्द-हिन्दू-हिन्दी हित हेतु संकल्पित
    हम भी हैं…
    शुभ परिचय से शुभारंभ कीजिये …
    परिणाम भी भला होगा…
    .
    ज्ञानी कहते हैं कि
    सपने होंगे तब ही तो सच होने पर बात होगी
    सपने जरूरी हैं …
    बड़े सपने…
    .
    आपका ब्लाग भी आपके लिये
    बहुत बड़ा हो सकता है
    आप चाहें तो
    हमारी अनौखी परस्पर सहयोग योजना में
    साथ जुड़िये
    साथ दीजिये
    साथ लीजिये
    सब का सहयोग कर
    निःशुल्क सबसे सहयोग लें
    सब आगे बढ़िये…..
    साथ आइये …
    साथ लाइये …
    (https://lekhanhindustani.com पर )
    साथ पाइये।
    लेखन हिन्दुस्तानी के वर्तमान और भावी सदस्यों का!!!!!!
    (व्यक्तिगत संदेश पर विस्तृत जानकारी पाइये, हमें फालो कीजिये… अभी …)
    – सत्यार्चन

अच्छा-बुरा... कुछ तो कहिये...