वास्तविक धर्म 

वास्तविक धर्म  

देवी-देवताओं के नाम चमत्कार युक्त मेसेज भेजकर फारवर्ड का अनुरोध या भय दिखाने में केवल समय व ऊर्जा ही नष्ट होती है! 

रचने, निर्माण करने, सँवारने में या इनमें  सहयोगी होने में  ही धर्म है 

और

 नष्ट  करना केवल अधर्म!

धर्म पथ के पथिक बनिये!

बीमार का हाल पूछ लें तो अच्छा!

भूखे को भोजन करा सकें तो अच्छा!

प्यासे को पानी पिला सकें तो अच्छा!
नहीं तो

 थके हारे पथिकों की राह छायादार करने

 सड़क किनारे 10-15 पेड़ लगायें या लगवायें या इस कार्य  में सहयोग करें! 

पेड़ों की रक्षा का प्रयास करें! 

जितने पेड़ जी जायें उतना पुण्य पायें! 
बरसात आ गई है करके देखें

 फिर 

इस वास्तविक “सार्वजनिक हित साधक धर्म” को अपनायें! इससे प्राप्त  पुण्य प्रभाव के फलों को, अपने सम्पूर्ण जीवन में, घटने  वाले चमत्कारों के रूप में स्वयं देखें!

1 लाइक 1 पौधे को पानी देने जैसा और 1 शेयर एक पौधा लगाने जैसा पुण्य प्रदाता है!

करके देखिये! 



-सत्यार्चन 

 

लेखक: सत्यार्चन.SathyaArchan

हिन्द-हिन्दी-हिन्दू-हित-हेतु..... वास्तविक हिन्द हितचिंतक मंच!. प्रयास और परिवर्तन के प्रबल पक्षधर पराजित नहीं होते... हो भी नहीं सकते !!! - #सत्यार्चन #SathyArchan #Satyarchan

“वास्तविक धर्म ” पर 8 विचार

  1. ना हिंदू खतरे में है, ना मूसलमां खतरे में है,
    हा मगर तुम्हारे अंदर का इंसान खतरे में है।
    धर्म का मुखौटा पहन तुम इन्सानियत का खून कर रहे हो, बताते हो खुद को खुदा की औलाद ओर उसके ही बन्दों से लड़ रहे हो ।

    1. सत्य वचन!
      सभी उस सर्वोपरि समग्र की संतानें हैं जो उसे उसके अनाम नाम से, वास्तविक स्वरूप से जानने के लिए योग्य नहीं हैं किन्तु जानने का दावा सभी करते आ रहे हैं!
      भ्रम का अंधेरा छटेगा तभी ज्ञान का सूर्य उगेगा!!!

        1. बहुत बढ़िया है लिखियेगा••• और लेखन हिन्दुस्तानी पर भी साथ साथ पोस्ट कीजिएगा!

अच्छा-बुरा... कुछ तो कहिये...