शाबाश उमर!

शाबाश उमर!

अब सब चुप!

कयों?

यू पी के चुनाव में

कन्हैया द्वारा सबल दल के विरुद्ध

सघन सक्रिय प्रचार का दुष्परिणाम सार्वजनिक पिटाई

और देशद्रोह जैसे आरोपों में जेल यात्रा के बावजूद

अबिद उमर ने रात पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया

यानी उमर आपमें साहस भी है

और भारतीय न्यायिक प्रक्रिया में विश्वास भी!

शाबाश अबिद उमर शाबाश!

#सत्यार्चन

via WordPress.com.

शुभ-दीपावली

 “लेखन हिन्दुस्तानी” के 
हिन्दुस्तानी भाव-निर्झर में
निरंतर प्रवाहित होते
सुधि पाठक-गणों को
प्रियजन, परिजन और
मित्रमंडली सहित
बहुत-बहुत शुभ दीपावली!!!
#सत्यार्चन

शायद इसीलिए

साहित्य भरती

Different dementia diseases and symptoms अलग अलग रोग और डिमेंशिया लक्षण

विज्ञान भारती

The brain and our ability to do things मस्तिष्क और हमारी क्षमताएं

स्वास्थ्य भारती

how to make an electromagnet

विज्ञान भारती

मेरी तस्वीरें मेरी भावनायें….

मेरी तस्वीरें मेरी भावनायें…..

मेरी तस्वीरें मेरी भावनायें….

बेकार की तकरार है...

जो मैं हूँ सो तुम हो...
2
3
जो मैं हूँ सो तुम हो…
4
जो मैं हूँ सो तुम हो…
5
जो मैं हूँ सो तुम हो…
6
जो मैं हूँ सो तुम हो…

“अत्याचार धर्म”

एक नया धर्म “अत्याचार धर्म” जन्मा है

जिसके प्रवर्तक, प्रचारक, संचालक और समर्थक

सब स्व-परिभाषित स्वयंभू जमाती / धर्मरक्षक / सुसंदेशक आदि

कहलाना चाहते हैं

किन्तु

वे केवल मानवता की हत्या

के घोर निकृष्ठ कर्म के अतिरिक्त

शेष कुछ भी नहीं कर पाते….!!!