pexels-photo-2928012

हसरत तेरी… किस्मत मेरी!

करके छेद किया गया कश्ती में हॅंसकर सवार…
चल दिया मुझे देखना था, देखते मेरा डूबना…!
-सत्यार्चन

अच्छा-बुरा... कुछ तो कहिये...