शाबाश उमर!

शाबाश उमर!

अब सब चुप!

कयों?

यू पी के चुनाव में

कन्हैया द्वारा सबल दल के विरुद्ध

सघन सक्रिय प्रचार का दुष्परिणाम सार्वजनिक पिटाई

और देशद्रोह जैसे आरोपों में जेल यात्रा के बावजूद

अबिद उमर ने रात पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया

यानी उमर आपमें साहस भी है

और भारतीय न्यायिक प्रक्रिया में विश्वास भी!

शाबाश अबिद उमर शाबाश!

#सत्यार्चन

via WordPress.com.

लेखक: सत्यार्चन.SathyaArchan

हिन्द-हिन्दी-हिन्दू-हित-हेतु..... वास्तविक हिन्द हितचिंतक मंच!. प्रयास और परिवर्तन के प्रबल पक्षधर पराजित नहीं होते... हो भी नहीं सकते !!! - #सत्यार्चन #SathyArchan #Satyarchan

अच्छा-बुरा... कुछ तो कहिये...